लॉन्ड्री बिजनेस प्लान : जाने लॉन्ड्री व्यवसाय शुरू करने की सबसे बेहतरीन व्यावसायिक योजना

Table of Contents

Share this article

परिचय (Introduction)

लॉन्ड्री बिज़नेस की अवधारणा पश्चिमी देशों में विकसित हुई थी। उसके बाद इसका भारत में चलन हुआ। इंसान अपनी जिन्दगी में इतना व्यस्त है, कि वो बहुत से काम खुद से नहीं कर पाता है। इसके अलावा कुछ काम उसे खुद करना पसंद नहीं होता है। यही वजह है कि बहुत से लोग तंग शेड्यूल और समय की कमी के कारण सबसे महत्वपूर्ण घरेलू कामों को पूरे तरह से नहीं कर पाते हैं। उनमें से कुछ काम करने के लिए वे दूसरे लोगों की सहायता लेते हैं।  इन्हीं में से एक काम है कपड़ें धोने और प्रेस करने का। जिसे लॉन्ड्री कहा जाता है। लॉन्ड्री सर्विस की शुरुआत लोगों के घरेलू काम के बोझ को कम करने के लिए की गई थी। आज लांड्री सर्विस ने लॉन्ड्री व्यवसाय का रूप धारण कर लिया है।

वैसे तो भारत में लॉन्ड्री व्यवसाय लम्बे समय से चला आ रहा है, लेकिन बढ़ती मांग और जीवन में बदलाव की वजह से यह लोगों की प्राथमिकताओं में शामिल हो रहा है। यही वजह है कि यह तेजी से उभरता हुआ व्यवसाय बनता जा रहा है। यह भी एक तथ्य है कि लॉन्ड्री व्यवसाय में प्रतिस्पर्धा है, लेकिन नए विचारों के साथ शुरू करने वाला यह व्यवसाय सफल हो सकता है। जब यह किसी प्रभावी कंपनी की तरह काम करता है, तो यह लाभ देने वाला उद्योग बन जाता है। लॉन्ड्रोमैट उपभोक्ताओं की एक विविध श्रेणी को आकर्षित करता है, जिसमें व्यस्त कॉर्पोरेट अधिकारी, छात्र और यहां तक कि वरिष्ठ नागरिक भी शामिल हैं।

लॉन्ड्री व्यवसाय – तेजी से बढ़ता उद्योग (Laundry Industry – Growing at a fast pace)

होमग्रोन कंसल्टिंग फर्म रेडसीर ‘इंडिया लॉन्ड्री सर्विसेज मार्केट’  द्वारा जारी नवीनतम शोध के अनुसार, भारत का लॉन्ड्री बाजार 2019 में 11.3 बिलियन डॉलर से बढ़कर 2025 तक $15 बिलियन तक पहुंचने का अनुमान है। इस लॉन्ड्री बाजार में B2C और B2B दोनों सेगमेंट शामिल हैं। जिसमें B2C में बाजार का कुल 88 प्रतिशत है।  लॉन्ड्री सर्विस देने वाले अपने ग्राहकों को कई तरह के विकल्प प्रदान करते हैं, जिसमें वॉश एंड फोल्ड और वॉश एंड आयरन जैसी सुविधा शामिल होती हैं। वित्त वर्ष 2020 में वॉश एंड आयरन की सबसे अधिक 72.93 प्रतिशत की हिस्सेदारी थी। यह आगे आने वाले वित्त वर्ष 2026 तक जारी रहने की उम्मीद है, क्योंकि यह सुविधा लोगों द्वारा सबसे ज्यादा पसंद की जाती है। यही वजह है कि यह खंड सबसे लोकप्रिय है।

लॉन्ड्री व्यवसाय के द्वारा ज्यादा लाभ कमाने और ग्राहकों को अपनी और खींचने के लिए यह सर्विस प्रदाता स्थानीय धोबी के साथ साझेदारी करने और ऑन-डिमांड लॉन्ड्री के आधार पर एक ऐप या वेबसाइट लॉन्च करने जैसी तकनीकों का इस्तेमाल करते हैं।

लॉन्ड्री बनाम लॉन्ड्रोमैट में क्या अंतर है? (Laundry VS Laundromat – What Is The Difference?)

एक लॉन्ड्रोमैट एक सेल्फ सर्विस होती है। जिसमें जाकर व्यक्ति कुछ पैसे मशीन में डालकर अपने कपड़ों को साफ़ करता है।  इन सिक्का संचालित मशीनों में वाशिंग मशीन, ड्रायर, और कभी-कभी आयरन करने वाली मशीनें शामिल होती हैं। सीधे शब्दों में कहें तो, ऐसी जगह जहाँ पर कपड़ों की धुलाई सिक्का संचालित मशीनों द्वारा की जाती है। उसे लॉन्ड्रोमैट कहते हैं।

वैश्विक ड्राई-क्लीनिंग और लॉन्ड्री सेवाओं के बाजार में 7.4% की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर  से 2021 में 104.23 बिलियन डॉलर से 2022 में 111.93 बिलियन डॉलर तक विकसित होने का अनुमान है। जबकि 2026 में  6.0 प्रतिशत के CAGR पर, बाजार 141.50 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है।

क्या लॉन्ड्रोमैट भारत में काम करता है? (Do Laundromats Work In India?)

माना जाता है कि लॉन्ड्री क्षेत्र में लंबे समय से ऑफ़लाइन सेवा प्रदाताओं का दबदबा रहा है। यह ऑफलाइन स्टोर केवल उच्च श्रेणी के ग्राहकों को अपनी सेवा देने के लिए प्रसिद्ध हैं। हालांकि, इस क्षेत्र में किये गये अध्ययनों और रिपोर्टों में परस्पर विरोधी निष्कर्ष पाए गए हैं। जिस वजह से इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है।

वाशिंग मशीन में सिमित तरीके से ही कपड़ों को धोया जाता है।  इसमें सफाई का दायरा काफी सीमित होता है। लॉन्ड्री सर्विस में कपड़ों को साफ़ करने की कोई सीमा नहीं होती है। यहाँ पर हर प्रकार के कपड़ें साफ़ किए जाते हैं।  कपड़े को साफ करने के लिए बड़े पैमाने पर सेवाओं को ग्राहकों को दिया जाता है। इसके साथ ही कई बिज़नेस और लोग छोटी या बड़ी लौंड्री सर्विस का उपयोग कपड़ों और बैगों को साफ़ करने के लिए लेते हैं।

इसका मतलब यह नहीं है कि भारत में लॉन्ड्रोमैट की कोई गुंजाइश नहीं है।  आप स्पष्ट रूप से देख सकते हैं कि भारत में आपके लिए इस बड़े पैमाने पर बाजार उपलब्ध है, बस जरूरत है, इस मार्केट के अंदर घुसकर अपनी पकड़ बनाने की और इसका अधिकतम लाभ उठानेकी ।

भारत में लाँड्री व्यवसाय कितना लाभदायक है? (How Profitable Is The Laundry Business In India?)

ट्रक्क्सं के अनुसार, लॉन्ड्री स्टार्टअप्स की संख्या 100 से ज्यादा को पार कर गई है, जिसमें 6.2 मिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया गया है। एक असंगठित कपड़े धोने का क्षेत्र, जिसमें मेड, सर्वेन्ट्स, प्रतिष्ठान और धोबी शामिल हैं। इन सबका मूल्य 5000 करोड़ रुपये से अधिक है।  जबकि भारत का लॉन्ड्री व्यवसाय  का बाजार लगभग 2.2 करोड़ रुपये है।

यूरोमॉनिटर इंटरनेशनल सर्वे के अनुसार, यह क्षेत्र कई भागों में बटा हुआ है।  जिसमें 7,67,000 ऑपरेशन के क्षेत्र हैं। इन क्षेत्रों में 98 प्रतिशत सूक्ष्म आकार की लॉन्ड्री हैं,  जिनमें दस से कम लोग कार्य करते हैं।

कामकाजी प्रोफेशनल लोग ,अपने घरों से दूर रहने वाले अविवाहित लोग अपने कपड़ें धोने में परेशानी महसूस करते हैं। वे अपने कपड़ों को लॉन्ड्री में देना पसंद करते हैं। नतीजतन, भारत का लॉन्ड्री व्यवसाय बड़ा और बेहतर होता जा रहा है। भारत में  लॉन्ड्री बाजार का मूल्य रु 2,20,000 करोड़ के आसपास है।

लॉन्ड्री व्यवसाय के लिए बिज़नेस प्लान (The Business Plan for your Laundry Business)

एक विस्तृत लॉन्ड्री व्यवसाय योजना बनाना आपके बिज़नेस का अगला चरण है। यही वह रास्ता है, जो आपको आगे की मंजिल तक ले जाएगा। जब आप एक व्यवसाय योजना बना रहे होते हैं, तो आपको कंपनी को प्रभावित करने वाली सभी चीजें आपके सामने रखना चाहिए। सब पर नजर रखना चाहिए।  इस तरह से आप एक शानदार लॉन्ड्री व्यवसाय की योजना बना कर अपना आर्थिक और मानसिक दोनों रूप से विकास कर सकते हैं।

कार्यकारी सारांश ( Executive Summary )

आपका कार्यकारी सारांश आपकी व्यावसायिक योजना का एक परिचय होता है। जो की संक्ष्पित रूप में बनाया जाता है।  यह बिज़नेस प्लान के प्रत्येक प्रमुख घटकों को सारांशित करता है। आपके कार्यकारी सारांश का मुख्य उद्देश्य पाठक को तेजी से आकर्षित करना होना चाहिए। आपके द्वारा संचालित लॉन्ड्री सर्विस और व्यवसाय के प्रकार के साथ-साथ, आपको अपनी वर्तमान स्थिति के बारे में भी बताना चाहिए। कहने का आशय है कि आप किस उद्देश्य को ध्यान में रखकर लॉन्ड्री व्यवसाय को शुरू करना चाहते हैं। उदाहरण के लिए-

·         क्या आप एक स्टार्टअप हैं,

·         क्या आपके पास लॉन्ड्रोमैट है, जिसका आप विस्तार करना चाहते हैं,

·         या क्या आप लॉन्ड्रोमैट की एक श्रृंखला चलाते हैं?

उसके बाद, अपने बिज़नेस प्लान के प्रमुख घटकों के बारें में आपकी भविष्य को लेकर क्या योजना है। इसके बारे में एक रूपरेखा प्रदान करें। अपनी लॉन्ड्री व्यवसायस की एक त्वरित रूपरेखा दें। उदाहरण के लिए –

·         अपने तत्काल प्रतिद्वंद्वियों का विस्तार से वर्णन करें।

·         निर्धारित करें कि आपकी टीम में सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति कौन हैं।

·         इसके अलावा, वित्तीय और बिक्री का विश्लेषण भी शामिल करें।

बाजार विश्लेषण (Market Analysis)

यदि आप लॉन्ड्री व्यवसाय शुरू करने पर विचार कर रहे हैं, तो यह स्वाभाविक है कि अपने मन में पहले से ही यह विचार बना चुके हैं, कि आपको किस प्रकार का व्यवसाय करना है। यदि आपने यह विचार नहीं भी किया है, तो अब इस बारें में अच्छे से सोच लें। हालांकि, यदि आप अभी भी कुछ विकल्पों पर विचार कर रहे हैं, तो हम कुछ लॉन्ड्री व्यवसाय मॉडल के बारे में बताने जा रहे हैं। उनके बारे में भी जानकर आप अपना निर्णय ले सकते हैं। आप एक लॉन्ड्री कंपनी बना सकते हैं, जहां ग्राहक आ सकते हैं, और आपकी मशीनों का उपयोग करके अपने कपड़ों को साफ़ कर सकें।  या फिर आप आप वॉश एंड फोल्ड सर्विस की पेशकश भी अपने ग्राहकों को कर सकते हैं, जहां ग्राहक अपने कपड़े छोड़कर आ सकते हैं। जब उनके कपड़े अच्छे से साफ़ हो जाए तो, वे वहां से उन्हें उठा सकते हैं। हालांकि कुछ लॉन्ड्री व्यवसाय पिकअप और डिलीवरी जैसी सुविधा अपने ग्राहकों को देते हैं। आप भी इस बारे में विचार कर सकते हैं।

लॉन्ड्री व्यवसाय खुद से शुरू करने के बजाय आप लॉन्ड्री फ्रैंचाइज़ी में निवेश करके इसकी शुरुआत कर सकते हैं। हालांकि इस प्रकार की रणनीति के साथ व्यवसाय शुरू करने के अपने फायदे और नुकसान हैं, लेकिन  यह आपका पहला व्यवसाय है, तो पहले से स्थापित इस व्यवसाय की फ्रेंचाइजी लेना और उसके ढांचे के भीतर काम करना फायदेमंद हो सकता है।

आखिरकार जब आपके पास इतने सारे विकल्प होंगे अपना लॉन्ड्री व्यवसाय शुरू करने के लिए, तो आपको सही विकल्प का चुनाव करने के लिए कुछ शोध और भी करना चाहिए।  इस शोध से आपको यह समझ आएगा कि आप किस तरह का लॉन्ड्री व्यवसाय करना चाहते हैं।  अपने आस-पास के एरिया में विभिन्न प्रकार की लॉन्ड्री सर्विस की जांच करें, स्थानीय लोगों से इस मामले में राय लें,  सर्वेक्षण करें। उसके बाद  अपने संभावित व्यवसाय की मांग के स्तर का निर्धारण करें।

उत्पाद और सेवाएं (Products and Services)

इस  भाग में, आप अपनी कंपनी द्वारा दी जाने वाली हर प्रकार की सर्विस के बारे में अच्छे से जानकारी देंगे। ताकि ग्राहकों को समझ आए कि आप किस प्रकार की सर्विस प्रदान करते हैं। आपके द्वारा दी जा रही हर प्रकार की सर्विस की आवश्यकताओं और विशेषताओं को इस भाग में शामिल करें। इसे आकर्षक बनाएं। इसके साथ ही साथ इन सर्विस को देने के लिए आप ग्राहकों से कितने रुपए लेंगे।  इस बिंदु को भी शामिल करें। यदि आप लॉन्ड्री व्यवसाय चलाते हैं, तो प्रदान की जाने वाली सेवाओं के विभिन्न स्तरों पर ध्यान दें और इनकी कीमत कैसे और क्यों एक दुसरे से भिन्न है। इसके बारे में भी बताए। सुनिश्चित करें की आपका मार्जिन उपयुक्त हो। न ही बहुत ज्यादा और न ही बहुत कम।  वैसे आप जिस जगह पर आप अपना व्यवसाय संचालित करते हैं, उस एरिया के आधार पर रेट कार्ड बनाना आपके लिए सबसे अच्छा हो सकता है। यह चरण पूरा होने के बाद आप व्यवसाय योजना में अपना मूल्य कार्ड प्रदर्शित कर सकते हैं। इससे आपका समय बचेगा और यह सुनिश्चित होगा कि आपका रेट कार्ड आपकी कंपनी की योजना से मेल खाता है।

प्रबंधन (Management)

लॉन्ड्री व्यवसाय चलाने के लिए आपको अपनी कंपनी में ऐसे लोगों की भर्ती करनी चाहिए जो आपके काम में सहायक हो। जिन्हें इस व्यवसाय का अनुभव हो।  ध्यान रखें कि लॉन्ड्री सर्विस “वन मैन शो” नहीं है। इस व्यवसाय में आपको मशीनरी चलाने और कपड़ों को साफ करने के लिए किसी न किसी व्यक्ति की आवश्यकता जरूर होगी। किसी भी  अप्रिय घटना से बचने के आप, उचित लोगों को काम पर रखें।

नीचे आपके लिए कुछ मैनेजमेंट टिप्स दी गई हैं, उनको भी ध्यान में रखें:

1.   कर्मचारियों को प्रशिक्षण प्रदान करें।

2.   लॉन्ड्री तकनीक का उपयोग करें।

3.   अपने लॉन्ड्रोमैट को साफ रखें।

4.   अपने मेंटेनेंस शेड्यूल स्थापित करें।

5.   सेफ्टी को प्राथमिकता दें।

6.   नए उपकरणों में निवेश करें।

बनाए रखें कंपनी को मेन्टेन  (Maintain Your Organization)

आपके संगठनात्मक कौशल की सबसे कठिन परीक्षा एक व्यवसाय शुरू करने के बाद ही समझ आती है। किसी भी प्रकार की आपात स्थिति आने पर उससे निपटने के लिए पहले से ही तैयार रहें। ऐसा करने से व्यवसाय में किसी भी प्रकार की हानि होने से भी आपका बिज़नेस सही तरीके से चलता रहेगा। इसमें किसी भी प्रकार की रुकावट नहीं आएगी।

अपने व्यवसाय को चलाने के लिए आपके पास वह सब कुछ होना चाहिए, जो इस बिज़नेस की सबसे ख़ास जरूरते हैं। ताकि आपका व्यवसाय किसी भी तरह की कमी की वजह से अपने ग्राहकों का आधार न खोए। जैसे आपको कच्चे माल और मशीनों की आवश्यकता होगी, इसलिए अपनी ज़रूरत की हर चीज़ ख़रीदें और स्टोर करें। आपके पास ग्राहकों से लॉन्ड्री की चीजों को लाने और भेजने के लिए गाड़ी भी होनी चाहिए। ताकि आप समय पर बिना किसी रुकावट के अपने व्यवसाय को चला सकें।

विपणन (Marketing)

कई रिसर्च में यह निकल कर सामने आया है, कि  वर्ड ऑफ माउथ विज्ञापन सबसे प्रभावी है। इसमें लोग अपने अनुभव के आधार पर दूसरों को उस चीज को ट्राई करने के लिए कहते हैं, जो उन्होंने स्वयं प्रयोग की है। इससे लोगों के अंदर एक विश्वास पैदा होता है।  इस चीज को करने के लिए हमें किसी भी बड़े समाचार पत्र में विज्ञापन देने की जरूरत नहीं है। हालांकि, आप चाहे तो, सप्ताह के अंत में कोई खास ऑफर यदि आप अपने ग्राहकों को देना चाहते हैं, तो आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।

इसके अलावा, एक रेफरल इंसेंटिव कार्यक्रम की भी पेशकश कर सकते हैं। जो ग्राहक आपके व्यवसाय को बढ़ाने के लिए अपने दोस्त या परिचितों को सुझाव देते हैं, तो उन्हें दो वॉश फ्री में दी जाएगी। और रिफरेंस से आने वाले व्यक्ति को एक वॉश फ्री में दी जाएगी।  इसके साथ ही आपको अपना कार्यस्थल साफ़ और स्वच्छ रखना चाहिए। आपके द्वारा प्रयोग की जाने वाली मशीनरी भरोसेमंद होना चाहिए। आपको अपने ग्राहकों के साथ विनम्र, और उन्हें  समय पर सर्विस प्रदान करना चाहिए। जब आप इन सब बातों को ध्यान में रखकर अपना मार्केटिंग प्लान बनाएंगे, तो आपको बहुत ज्यादा लाभ होगा।

अतिरिक्त सेवाएं (Additional Services)

आप अपने लॉन्ड्री व्यवसाय में सामान्य धुलाई के अलावा, ड्राई क्लीनिंग, स्टार्चिंग, स्पॉट ट्रीटमेंट और कालीन की सफाई जैसी अन्य सेवाएं भी प्रदान कर सकते हैं। इसके साथ ही आप कपड़ों की मरम्मत जैसे सिलाई, बदलाव और पैचिंग जैसी सर्विस देकर आप अपनी आय का एक स्रोत बड़ा सकते हैं।

लॉन्ड्री व्यवसाय कभी समाप्त नहीं होगा।

यदि आप गुणवत्तापूर्ण सेवा प्रदान कर सकते हैं, तो यह व्यवसाय के लिहाज से एक बड़ी व्यावसायिक संभावना होगी। हम आशा करते हैं कि लॉन्ड्री व्यवसाय शुरू करने के लिए हमने ऊपर जो आपको स्टेप बाय स्टेप जो बातें बताई है। वो आपके लिए सहायक होंगी।

 होम पिकअप और डिलीवरी बिजनेस (Home Pickup And Delivery Business)

एक विशिष्ट व्यावसायिक अवधारणा यह होगी कि आप अपने ग्राहकों से गंदे कपड़े लेकर उन्हें साफ करके लौटा दें। यह एक सीधी और सरल व्यावसायिक अवधारणा है, जो ग्राहक के विश्वास पर निर्भर करती है।  कई लॉन्ड्री व्यवसाय वर्तमान में इस प्रकार की व्यावसायिक रणनीति का उपयोग करते हैं। ग्राहकों को डिलीवरी और पिकअप देने के लिए आप उनसे थोड़े ज्यादा पैसे लेकर उन्हें यह सुविधा भी प्रदान कर सकते हैं। आप चाहे तो अपने स्टोर पर भी उनका ऑर्डर लेने का विकल्प प्रदान करें।

वित्तीय विश्लेषण (Financial Analysis)

लॉन्ड्री व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको पंजीकरण भी करवाना जरूरी है। इस व्यवसाय की पंजीकरण प्रक्रिया इस प्रकार है। सबसे पहले आपके लॉन्ड्री व्यवसाय को एक कानूनी इकाई के रूप में पंजीकृत होना चाहिए। आप किस प्रकार का व्यवसाय खोलना चाहते हैं, इसका निर्णय लें। आपका निर्णय ही आपके व्यवसाय का भविष्य निर्धारण करेगा।  एलएलपी, निगम, साझेदारी और एकमात्र स्वामित्व सहित कई विकल्प लॉन्ड्री व्यवसाय में उपलब्ध हैं। इस व्यवसाय के लिए लाइसेंस कैसे मिलेगा उसकी आवश्यक शर्तें क्या है। इस मामले में जानकारी एकत्रित करें। अपने उद्यम के बारे में स्थानीय सरकार से परामर्श करें। उनके दिशा निर्देशों का  पालन करें।

आप की कंपनी को किस प्रकार के बीमा कवरेज की जरूरत है, इसके बारे में भी जानकारी एकत्रित करें। आप जिस जगह रह रहे हैं, उसके  आधार पर यह भिन्न हो सकता है। फिर भी, कुछ निम्नलिखित आवश्यक बीमा कवरेज के बारे में यहाँ बताया जा रहा है:

·         सामान्य देयता के लिए बीमा (Insurance for general liability)।

·         श्रमिकों के मुआवजे की नीति (Policy on Workers’ Compensation)

·         पेशेवर दायित्व के लिए कवरेज (Coverage for professional liability)

·         जोखिमों के लिए कवरेज (Coverage for risks)

·         व्यापार मालिकों के लिए नीति (Policy for business owners)

बीमा कवरेज करवाने के लिए निम्नलिखित कानूनी दस्तावेज ले जाना याद रखें:

·         आपकी लॉन्ड्री-संबंधी व्यावसायिक रणनीति (Your laundry-related business strategy)।

·         बीमा और स्वास्थ्य संबंधी लाइसेंस, साथ ही निगमन का प्रमाण पत्र (Insurance and health-related licenses, and  certificate of incorporation)।

·         एनडीए – गैर प्रकटीकरण समझौता (NDA – non-disclosure agreement),

·         राज्य सरकार से परमिट (Permits from your state government)।

·         रोजगार के अनुबंध (Contracts of employment)।

एक बार जब आपकी कंपनी चलना शुरू हो जाती है। तब आपको इसके बारे में लोगों और बाजार को बताना होगा। अखबार के विज्ञापन, पत्रिकाएँ, ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म, टेलीविजन, रेडियो और मेले इन सब के माध्यम से आप अपनी बाजार में उपस्थिति दर्ज करा सकते हैं। पता लगाएँ कि आपको ग्राहक किस जगह पर सबसे ज्यादा मिलेंगे।  तो उसी जगह पर, आप सबसे ज्यादा विज्ञापन करें। इससे आपको अधिक से अधिक कस्टमर मिल सकते हैं। जो ग्राहक आपके रेगुलर है, आप उनको पुरस्कृत करने के लिए एक कार्यक्रम भी बना सकते हैं। नए उपभोक्ताओं को कुछ सेवाएं फ्री में भी प्रदान करें।

आप चाहे तो बोनस सर्विस कार्यक्रम  भी शुरू कर सकते हैं। जैसे एक दर्जन कपड़ों के बदले आप दो कपड़ों पर आयरन फ्री में करेंगे। या फिर आप किन्हीं 2 कपड़ों की सफाई के लिए आप किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं लेंगे। आप उनसे अनुरोध करें, कि हमारी सर्विस के बारें में अपने दोस्तों और परिचितों को भी सलाह दें। उन जगहों का चयन करें, जिससे आपको बिज़नेस के लिए ग्राहक मिल सकते हैं। ऐसी जगहों पर जाकर उन्हें अपनी लॉन्ड्री सर्विस के बारे में बताएं। अपना प्रेजेंटेशन  देकर उन्हें आपके द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं के बारे में बताएं। अपने यूनिक सेलिंग प्रस्ताव के बारे में भी उल्लेख करें। इससे ग्राहक समझेंगे कि यदि वह आपकी सर्विस का लाभ लेते हैं, तो उन्हें किस तरह के फायदे मिलेंगे। उन्हें आपको क्यों चुनना चाहिए।

लॉन्ड्री व्यवसाय की सफल कहानियां (Success laundry business stories)

धोबीलाइट : धोबीलाइट की स्टोरी में 2017 में प्रदर्शित की गई थी। तब से यह स्टार्टअप अब तक कई सफाई और लॉन्ड्री के क्षेत्र वालों के लिए एक आदर्श रहा है। इसकी शुरुआत नोएडा से  15,000 डॉलर से अधिक के फंड के साथ हुई थी।  जिसका लक्ष्य स्मार्टफोन द्वारा  लॉन्ड्री व्यवसाय को शुरू करना और अपने ग्राहकों तक आसान पहुंच बनाना था। पिछले दो वर्षों में, इसका विस्तार ग्रेटर नोएडा, गुड़गांव और गाजियाबाद तक हो गया है। त्रिपाठी कहते हैं, “हमारे पास लगभग 7,000 पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं और जो हर दिन लगभग 50-70 ऑर्डर देते हैं।”

हाल के वर्षों में भारत के प्रमुख शहरों में सैकड़ों लॉन्ड्री व्यवसाय उभरे हैं, जिनमें MyWash, Wassup, और PickMyLaundry शामिल हैं। हालांकि, कई व्यवसाय को उच्च गुणवत्ता वाली सर्विस के पैमाने और रखरखाव में असमर्थता के कारण उन्हें बंद करना पड़ा। कुल मिलाकर, सभी उद्यमियों का मानना है कि ऑन-डिमांड लॉन्ड्री सेवाओं की मांग बढ़ रही है, चाहे वेंडर एसोसिएशन हो, एक कार्यात्मक संयंत्र हो, हब और स्पोक मॉडल।

एक नजर मुख्य बिन्दुओं पर  (A Quick Recap)

एक बार सब सेट हो जाने के बाद हमें अपनी चेक लिस्ट तैयार करके अपनी चीजों के रिकैप पर नजर डाल लेनी चाहिए।

·         सबसे पहली चीज है।  क्या आपका लॉन्ड्री स्टार्टअप घर-आधारित व्यवसाय बनने जा रहा है? अगर आपने हां में जवाब दिया है तो बधाई। तो आपको किसी भी तरह के ऑफिस की आपको जरूरत नहीं हैं। आपको कोई भी जगह किराए पर लेने की जरूरत नहीं है। इससे आपकी लागत पर भी असर पड़ेगा। आपका प्रॉफिट मार्जिन बढ़ेगा। यदि आपका जबाव न है तो, इन बातों का ध्यान रखें। यदि आप एक बड़े शहर में हैं तो आप एक छोटी सी जगह के लिए भी किराए का भुगतान करना होगा। हो सकता है, आपको कुछ महीने का किराया भी पहले से देना पड़े।

·         एक आई कैचिंग साइन बोर्ड भी बनवाएं। जो आपके लॉन्ड्री व्यवसाय को लोगों तक पहुचायेगा। आपको लॉन्ड्री में लगने सामान की भी जरूरत होगी। जैसे कोट हैंगर, सफाई की का सामान रोटेशन -कपड़े-आफ्टर-क्लीनिंग मशीन, और प्लास्टिक बैग को भी अपनी आइटम सूची में ऐड करें।

·         कुछ उपकरण आप किराए पर भी ले सकते हैं। हालांकि, आपको किराए के अतिरिक्त भी कुछ सामान खरीदने की आवश्यकता होगी।

·         जगह का किराया,  बिल, मार्केटिंग अभियान, कच्चा माल और बीमा सभी इस व्यवसाय में होने वाले खर्चों के उदाहरण हैं।

·         आपका लक्षित बाजार इस प्रकार है: कपड़े धोने की सेवाएं आम तौर पर रिटेलर द्वारा चलाई जाती है। यह स्थानीय लोगों से बराबर जुड़े रहने से और ज्यादा बढ़ता जाता है। आप चाहे तो सदस्यता सेवा शुरू करके अपने ग्राहकों के साथ सम्बन्ध को मजबूत कर सकते हैं। आप इस तरह एक स्थिर ग्राहक आधार बनाने में सक्षम होंगे।

·         यदि आप एक पूर्णकालिक लॉन्ड्री सेवा चला रहे हैं, तो किसी भी प्रकार से होने वाली एलर्जी से निपटने के लिए भी तैयार रहें। एलर्जी से जुड़ी हुई घटनाओं को कम करने के लिए जैविक वस्तुओं का उपयोग करें। ऐसा करने से आप उन लोगों को भी अपनी तरफ खींच पाएगे, जो लोग पर्यावरण बचाने के लिए जैविक चीजों का उपयोग करते हैं।

आपको यह भी पता होना चाहिए कि आप जो सर्विस दे रहे हैं, उनकी कीमत कैसे तय की जाए। अपनी प्रतियोगियों की कीमतों की जांच करें। उसके बाद अपने निष्कर्षों के अनुसार कार्य करें

निष्कर्ष (Conclusion)

चूंकि आज के समय में लोग दिन पर दिन व्यस्त होते जा रहे हैं। यही वजह है कि लॉन्ड्री व्यवसाय को बड़े पैमाने पर विस्तार करने के अवसर है। लॉन्ड्री सर्विस और ड्राई क्लीनिंग उद्योग में फलने-फूलने के कई अवसर हैं। तकनीकी सुविधा का प्रयोग करते हुए, हम अपने व्यवसाय के संचालन पर अधिक नियंत्रण रखने के लिए लॉन्ड्री प्रबंधन सॉफ्टवेयर का भी उपयोग कर सकते हैं। आपको यह भी गारंटी देनी चाहिए, कि आप अपने ग्राहकों को भविष्य में वापिस आने पर भी उसी तरह की सर्विस प्रदान करेंगे। जैसे की पहले से करते आए हैं।  यदि आप अभी भी सुनिश्चित नहीं हैं कि लॉन्ड्री व्यवसाय कैसे शुरू किया जाए, तो बस ऊपर दिए गये इन चरणों को याद रखें। हमें यकीन है कि आप जरूर सफल होंगे।

This post is also available in: English हिन्दी

Share:

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Subscribe to Newsletter

Start a business and design the life you want – all in one place

Copyright © 2022 Zocket